यूपी:शर्मनाक !डॉक्टर की घोर लापरवाही ,कटे पैर को बना दिया घायल युवक का तकिया

Posted at : 2018-03-10 14:41:40

झांसी। प्रदेश में चिकित्स्कीय स्वास्थय सेवाओं की खस्ता हालत और डॉक्टर्स की लापरवाही किसी से भी छुपी नहीं है। आये दिन प्रदेश के तमाम इलाकों से डॉक्टर्स की लापरवाही भरे कारनामे मीडिया में आते रहते है। लेकिन आज झाँसी में एक शर्मनाक और घोर लापरवाही का मामला सामने आया है जिसने समूचे चिकत्सा जगत को शर्मसार कर मानवता को कलंकित करने का काम किया है। दरअसल शनिवार सुबह लहचूरा थाना क्षेत्र की एक स्कूल बस अनियंत्रित होकर उस समय पलट गयी थी जब एक ट्रैक्टर को बचाने का प्रयाश किया गया। इस घटना के बाद बस का चालक तो वहां से भाग गया था, मगर बस पलटने से आधा दर्जन स्कूली बच्चे और बस का क्लीनर लहचूरा थाना क्षेत्र के ग्राम इटायल निवासी घनश्याम 25 पुत्र देवकी बुरी तरह घायल हो गया था। इस हादसे में उसका बांया पैर कटकर शरीर से अलग हो गया था। उसे गंभीर हालत में मेडिकल कॉलेज लाया गया। यहां काफी जद्दोजहर के बाद चिकित्सकों ने उसका उपचार शुरू किया। उसे पलंग के बजाए काफी देर तक स्ट्रेचर पर लिटाए रखा। इतना ही नहीं, लापरवाही की हद तो तब हो गई, जब उसे तकिया देने के बजाए घनश्याम सिर के नीचे उसी का कटा हुआ पैर लगा दिया। इस प्रकरण के मीडिया में आने के बाद अधिकारीयों में हड़कंप मच गया। इस बारे में सीएमओ सुरेश बहादुर सिंह ने कहा कि यह मामला मेडिकल कालेज से जुड़ा है .जो हामरे कार्यक्षेत्र में सीधे तोर पर नहीं आता है .फिर भी मैंने मेडिकल कालेज के प्रिंसिपल और अन्य अधिकारीयों से बात की है। घटना की जाँच होगी और जिस भी डॉक्टर की लापरवाही निकलेगी, निश्चित तोर पर कड़ी कारवाही की जाएगी। घटना की जितनी भी निंदा की जाए कम है। वही इस बारे में मीडियाकर्मियों ने जिलाधिकारी से कई बार फोन पर संपर्क करने की कोशिश की लेकिन फोन नहीं उठा। सीएमस डॉ. हरिश्चंद्र आर्य से बातचीत की गई तो उन्होंने तथ्यों के आधार पर दोषी के खिलाफ कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया