लखनऊ( मोहम्मद शानू )खिलाडिय़ों के लिए लोक सभा चुनाव ओलम्पिक से कम नहीं

Posted at : 2019-04-05 07:52:52

चुनावी महासमर में पूर्व मैंदानी खिलाडिय़ों की होगी जंग ओलम्पियन राज्य वर्धन को कॉमनवेल्थ स्वर्ण विजेता पुनिया देंगी टक्कर लखनऊ। 2019 का लोकसभा चुनाव काफी रोचक हो रहा है। जहां एक तरफ दिग्गज नेता एक से दूसरी पार्टियों में भरोसा करके अपना रुख बदल रहे हैं, वहीं खेल मैंदान में पहचान बना चुके खिलाड़ी भी चुनाव से अछूते नहीं दिख रहे। इससे साफ जाहिर हो रहा है कि यह चुनाव पूर्व खिलाडिय़ों के लिए ओलम्पिक से कम नहीं है। यही वजह है कि देश के कई अलग-अलग राज्यों से खिलाड़ी भी पहले कि तरह मैंदान में उतारे जा रहे हैं। कुछ खिलाड़ी चुनावी मैंदान में हैं तो कुछ चुनावी प्रचार में लगे हैं। अंतरराष्ट्रीय खेलों में देश का मान बढ़ाने वाले कई खिलाड़ी भी इस बार के लोकसभा चुनाव में अपना भाग्य आजमा रहे हैं। 2004 में ओलंपिक रजत पदक जीतने वाले राज्यवर्धन सिंह राठौर 2014 के लोकसभा चुनाव में जीत के बाद केन्द्रीय खेल मंत्रालय की भी बागडोर देख रहे हैं। इस बार राज्यवर्धन सिंह राठौर को एक खिलाड़ी ही टक्कर देने जा रहा है। राज्यवर्धन सिंह राठौर राजस्थान की जयपुर ग्रामीण लोकसभा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं और उनके खिलाफ कांग्रेस ने 2010 के कॉमनवेल्थ खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली कृष्णा पुनिया को प्रत्याशी बनाया है। कृष्णा पुनिया ने चक्का फेंक प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता था जबकि राज्यवर्धन सिंह राठौर ने शूटिंग में रजत पदक अपने नाम किया था। कांग्रेस ने 9 उम्मीदवारों की जो लिस्ट निकाली है जिसमें 6 उम्मीदवार राजस्थान के हैं और इन्हीं 6 में से एक नाम कृष्णा पुनिया का भी है। कृष्णा पुनिया फिलहाल राजस्थान विधानसभा में विधायक हैं। कृष्णा पुनिया 2013 में कांग्रेस पार्टी में शामिल हुई थीं और राजस्थान की सादुलपुर विधानसभा सीट से चुनाव लड़ा था, लेकिन 2013 में वह चुनाव हार गई थीं। वहीं राज्यवर्धन सिंह राठौर 2013 में सेना में कर्नल के पद से इस्तीफा देकर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे और जयपुर ग्रामीण लोकसभा सीट से 2014 का लोकसभा चुनाव लड़ा था। राज्यवर्धन सिंह राठौर चुनाव जीते थे और फिलहाल केंद्र सरकार में मंत्री हैं।