(धर्मेंद्र सिंह ) पहले आस्तीन के सांपो को कुचलो ,आतंकी खुद व खुद निपट जायेगें

Posted at : 2019-02-17 01:16:22

(धर्मेंद्र सिंह ) लखनऊ : जम्मू कश्मीर में हुए आतंकी हमले से देश में पहली बार व्यापक स्तर पर विरोध प्रदर्शन और नाराजगी देखी जा रही है। युवा हो या फिर बुजुर्ग , या फिर आम जनता ,सभी का एकमत है कि रोज रोज की किचकिच से अब जनता ऊब चुकी है। वीर शहीदों को खोकर उनके परिवार के साथ साथ पूरे देश को छति उठानी पड़ रही है। इस बार आर- पार की लड़ाई हो ही जाए ताकि पाकिस्तान जैसे देश का नामो निशान मिट जाए ,लेकिन आतंकियों को निपटाने से पहले देश में बसे गद्दारों और अलगाववादियों को पहले ठिकाने लगाना होगा। ताकि देश में पाकिस्तान के प्रति सकारात्मक नजरिया रखने वाले विभीषणों को खोज कर उन्हें नेस्तनाबूद कर दिया जाए और आतंकियों को मार गिराने में आसानी हो सके। और एक खुशखबरी अभी मिल रही है कि भारत सरकार ने जम्मू काश्मीर के 5 अलगाववादी नेताओं से अपनी सुरक्षा वापस ले ली है। अलगाववादियों को ठिकाने लगाने की मुहीम अगर बिना राजनीति के जारी रही तो निश्चित रूप से बहुत जल्दी ही पाकिस्तान के सरंक्षण में पल रहे इन आतंकियों का हमेशा के लिए अंत होना सुनिश्चित है। पुलवामा आतंकी हमले के बाद से ही अभी तक पूरे देश में एक दर्जन से अधिक गद्दारों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा है जिनमें से 6 से अधिक गद्दारों को सिर्फ यूपी से ही पकड़ा गया है। ये गद्दार भारत में रहकर पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे तो लगा ही रहे थे साथ ही गुप्त रूप से स्लीपिंग सेल को बढ़ावा देने के आरोपी भी है। यही वो गद्दार और अलगाव वादी हैं जिनकी वजह से आतंकियों को भारत में घुसने और रेकी कर हमलों को अंजाम देने में आसानी हो रही है। हमें अपने वीर जवानों पर पूरा भरोसा है उनके रहते हुए सीमा सो फीसदी सुरक्षित है। तो फिर आतंकी देश में कैसे और कहाँ से घुस आते है और उन्हें फंडिंग कहाँ से होती है। अगर सरकार इसी समस्या पर अपना ध्यान केंद्रित कर आगे की कारवाही करे तो आतंकियों से निपटने में बेहद आसानी होगी।