बांदा :बुंदेलखंड में बदल गई होली की परंपरा, अब दलितों के घर लंबरदार नहीं करते ‘हुड़दंग’

Posted at : 2019-03-21 09:18:50

बांदा : उत्तर प्रदेश के हिस्से वाले बुंदेलखंड में हर तीज-त्योहार मनाने के अलग-अलग रिवाज रहे हैं। अब होली को ही ले लीजिए। करीब एक दशक पूर्व तक होलिका दहन के बाद रात में गांवों के 'लंबरदार' अपने यहां 'चौहाई' (मजदूरी) करने वाले चुपके से दलितों के घरों में मरे मवेशियों की हड्डी, मल-मूत्र और गंदा पानी फेंका करते थे, इसे 'हुड़दंग' कहा जाता रहा है। लेकिन इसे कानून की सख्ती कहें या सामाजिक जागरूकता, यह दशकों पुराना गैर सामाजिक रिवाज अब बंद हो चुका है।