भोपाल:बेशक ! गाय हमारी माता है |

Posted at : 2019-01-23 01:59:08

भोपाल। मध्यप्रदेश की गौ प्रेमी सरकार राज्य में गाय को आवारा छोड़ना अपराध माना जाएगा, ऐसा कानून बनाने जा रही है | पंद्रह साल बाद सत्ता में लौटी सरकार की नई व्यवस्था में जुर्माने को भी दोगुना करने की तैयारी है। जो लोग दूध निकालने के बाद अपनी गाय को खुला छोड़ देते हैं, उनसे अब ढाई सौ के स्थान पर ५०० रुपये अर्थ दंड वसूलने का नियम बनाया जा रहा है। यह सब कागज पर हो रहा है | सरकार के प्रयास से इतर इन दिनों कुछ प्रयास हुए है जिनसे सरकार कुछ सीख सकती है | सीहोर जिले की बुदनी विधानसभा के गाँव डोबी में गौशाला की स्थापना और गौ रक्षा से उन्नति पर लिखा गया एक पत्र | डोबी का प्रयास सामूहिक है सामाजिक है तो पर्यावरणविद कृष्ण गोपाल व्यास का एकल | दोनों सरकार को कुछ सिखाते हैं | डोबी सिखाता है सन्गठन तो व्यास जी का पत्र एक सम्पूर्ण माडल उन आर्थिक सम्भावनाओ का देता है जो गौ शाला से जुडी हैं | पिछले दिनों मुख्यमंत्री बनने के बाद कमलनाथ ने अपने गृह जिले छिंदवाड़ा में कहा था कि उन्हें गोमाता सड़क पर नहीं दिखनी चाहिए। गायों के लिए प्रदेश के हर जिले में जल्द से जल्द गौशालाओं का निर्माण करने का एलान भी उन्होंने दोहराया। नवंबर में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष के रूप ने अपने ‘वचन पत्र’ में भीउ न्होंने यही कहा था कि उसकी सरकार बनने पर वह हर ग्राम पंचायत में गौशाला खोलेगी और इसके संचालन के लिए अनुदान देगी।