लखनऊ: डिग्री केवल औपचारिकता नहीं, बल्कि आत्मनिर्भरता से मजबूत होनी चाहिए: मुख्यमंत्री

Posted at : 2019-02-10 08:11:18

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज जनपद गोरखपुर के महाराणा प्रताप स्नातकोत्तर महाविद्यालय जंगल धूसड़ में आयोजित समावर्तन संस्कार समारोह का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्होंने 4 पुस्तकों वार्षिक पत्रिका समावर्धन, लोक भाषा संवर्धन, नाथ पंथ का योगदान, आधुनिकता से उत्तर आधुनिकता तथा राणा कालीन नेपाल का इतिहास का विमोचन किया और विभिन्न प्रकल्पों जैसे सिलाई कढ़ाई, कंप्यूटर में निःशुल्क प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण पत्र/पुरस्कार वितरित किए। मुख्यमंत्री ने छात्र-छात्राओं को अपनी शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा कि व्यक्ति के जीवन में परिश्रम एवं पुरुषार्थ का कोई विकल्प नहीं होता है। महाविद्यालय से जो अच्छे गुण आपने सीखे हैं, उसे अंगीकृत करते हुए अपने जीवन को उन्नति की ओर आगे बढ़ायें। उन्होंने कहा कि सुख-दुःख, लाभ-हानि की चिंता किये बगैर जब व्यक्ति जीवन संघर्ष में आगे बढ़ता है तो उसे निश्चित रूप से सफलता मिलती है। जीवन में सरलता का रास्ता अपनाकर हासिल की जाने वाली सफलता लम्बी दूरी/समय तक काम नहीं दे पाती है, तात्कालिक सफलता का सुख तो मिलता है, लेकिन वह सुख यशस्वी नहीं बना पायेगा। हम सभी को जीवन में परिश्रम एवं पुरुषार्थ को समझना होगा।